व्यापार

भारत ने रुपये में कई बार गिरावट देखा, भू-राजनीतिक संकट का जोखिम कायम: MPC सदस्य

नयी दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) के सदस्य जयंत आर वर्मा ने बुधवार को कहा कि भारत की आर्थिक वृद्धि के दृष्टिकोण के लिए सबसे बड़ा जोखिम भू-राजनीतिक संकट का बढ़ना है। वर्मा ने पीटीआई-के साथ साक्षात्कार में कहा कि मुद्रास्फीति तथा इसके बढ़ने की आशंका कम होती दिख रही हैं और उच्च मुद्रास्फीति निश्चित रूप से देश में ‘मानक’ नहीं बनेगी। उन्होंने कई कारणों का हवाला देते हुए भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर सतर्कता के साथ सकरात्मक उम्मीद जताई हैं। उन्होंने कहा, ‘‘एमपीसी जितनी जल्दी हो सके, महंगाई दर को चार प्रतिशत के लक्ष्य के करीब लाने के लिए संकल्पित है।’’

Related posts
व्यापार

NSE india make profit in june quarter increase 9 percent know 5 year data | जिसके दम पर निवेशक बनाते मोटा पैसा, उसकी आर्थिक स्थिति जान झूम उठेंगे आप

Photo:FILE NSE india NSE India: नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE)…
Read more
व्यापार

Google के बाद अब Microsoft ने किया गड़बड़झाला, EU ने शुरू की प्रतिस्पर्द्धा-रोधी जांच

Photo:FILE Microsoft दुनिया की प्रमुख टेक्नोलॉज…
Read more
व्यापार

भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर आ गई Good News, डेलॉयट ने अगले दो वर्षों के लिए की बड़ी भविष्यवाणी

Photo:FILE Indian Economy दुनिया भले ही 2023 में मंदी के…
Read more

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *